Monday, July 31, 2006

किताबों को हिट कराने का मौसम

लगता है कि इन दिनों किताबों को हिट कराने का मौसम चल रहा है. जहां देखो एक किताब की चर्चा. दिलचस्प बात तो यह है कि किताब के चर्चा में आने से पहले एक विवाद सामने आता है और पता चलता है फलां-फलां विवाद के बारे में फलां-फलां ने अपनी "नई किताब" में चर्चा की है. इसी कड़ी में आजकल जसवंत जी हर जगह छाए हुए हैं जिनकी किताब "ए कॉल टू ऑनर" बेस्टसेलर में शामिल भी हो गई. अब क्या कहें...... पता नहीं कि किताब से जुड़ा जासूस विवाद न होता तो किताब के पढ़ने वाले कितने होते.

अब अपनी क्रिकेट टीम के कोच जॉन राइट को ही लीजिए. जिस गांगुली के कसीदे पढ़ते वह नहीं थकते थे अब वह अपनी किताब "इंडियन समर्स" में गांगुली के साथ विवादों का जिक्र कर रहे हैं.

जसवंत की तरह का नुस्खा अपनाने के लिए एक और सांसद ने अयोध्या विवाद के बारे में चर्चा की. फिर खबर आई कि इस बारे अधिक विस्तार से चर्चा सांसद महोदय की नई पुस्तक में है. अब ये अलग बात है कि जसवंत जी की किताब के चलते सांसद जी की किताब लाइम लाइट में नहीं आ पाई.

लगता है सांसद जी को मार्केटिंग बिजनेस का जरा कम ज्ञान है तभी तो उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर चल रही एक हिट फिल्म के समय अपनी फिल्म रिलीज कर दी. अब उन्हें कौन समझाए कि किताब को हिट कराने के लिए सही टाइमिंग पर सही विवाद की जरुरत पड़ती है.

3 Comments:

At 11:16 PM, Anonymous Tarun said...

या पहले खुब विवाद करवाओ फिर पुस्तक छपवाओ।

 
At 12:17 AM, Blogger ई-छाया said...

ये सब फालतू का फुटेज खाने का ढोंग है, लोगबागों का। पब्लिक भी ऐसे ही बेवकूफ बनती है ना।

 
At 10:20 PM, Anonymous SHUAIB said...

हा हा - बहुत खूब

 

Post a Comment

<< Home